ads
 

08/12/2013   मिस टनकपुर हाजिर हो खोलेगी सिस्टम की पोल
जिला बुलंदशहर के किसी गांव में अगर ओम पुरी और अन्नू कपूर जैसे कलाकारों के साथ किसी फिल्म की शूटिंग चल रही हो तो वहां भीड़ का जुटना स्वाभाविक ही है। सर्दियों की गुनगुनी धूप में निर्माता विनय तिवारी की फिल्म �मिस टनकपुर हाजिर हो� के सैट पर पहुंचते ही हमारी मुलाकात फिल्म के निर्देशक विनोद कापड़ी से हुई।

विनोद असल में पत्रकार हैं और न्यूज चैनलों की दुनिया में उनका खासा नाम है। उन्होंने बताया कि राजस्थान के सीकर की एक न्यूज पढ़ कर उन्हें यह फिल्म बनाने की प्रेरणा मिली जहां एक बेगुनाह लड़के को कुछ दबंग लोगों ने पुलिस के साथ मिल कर एक ऐसे रेप के केस में फंसा दिया था जो अपने-आप में अनूठा था। विनोद बताते हैं कि जब मैंने इस केस पर तफसील से काम किया तो मुझे महसूस हुआ कि यह केस न सिर्फ हमारे सिस्टम का बल्कि इंसानियत का भी मजाक उड़ाता है जिसमें एक बेगुनाह को फंसाने के लिए सबूतों और गवाहों का भी इंतजाम हो जाता है। फिल्म में मिस टनकपुर कौन है, इसे अभी राज रखा जा रहा है।
 अगला शॉट तैयार है। नहर के किनारे एक ट्रैक्टर चलता हुआ आगे निकल जाता है और पीछे आ रही जीप से उतर कर अन्नू कपूर नहर में देखते हुए चिल्लाते हैं-�अरे, यो के कर दियो। गिरा दियो। अरे ओ गोपी, बुला जरा डॉक्टर को फटाफट।� दो रीटेक के बाद यह शॉट ओ.के. होता है और अगले शॉट में इंस्पैक्टर मतंग सिंह अपनी जीप से उतर कर नहर की तरफ भागते हैं और कहते हैं-�अरे, इसकी तो टांग ही टूट गई।�
 फिल्म के निर्माता विनय तिवारी की यह दूसरी फिल्म है। इससे पहले वह सनी देओल को लेकर �मौहल्ला अस्सी� बना चुके हैं जो अभी रिलीज होनी है। वह कहते हैं कि विनोद की लिखी यह कहानी उन्हें पसंद आई और उन्हें लगा कि इस पर एक अच्छी व्यंग्यात्मक फिल्म बनाई जा सकती है इसीलिए वह इसे बनाने के लिए तैयार हुए। विनय बताते हैं कि इस फिल्म के हीरो एक नए कलाकार राहुल बग्गा हैं जो दिल्ली के रहने वाले हैं और अनुराग कश्यप के लिए भी एक फिल्म कर चुके हैं। उनके अपोजिट हृषिता भट्ट को लिया गया है। इन सबके अलावा फिल्म में रवि किशन भी हैं।
 थोड़ी देर बाद एक और शॉट फिल्माया जाता है जिसके बाद अन्नू कपूर बताते हैं-�मैं इस फिल्म में सुआ लाल का किरदार निभा रहा हूं जो अपने गांव का प्रधान है और राजनीति में आगे बढ़ना चाहता है। उसकी पर्सनल लाइफ में कुछ हुआ है जिसका बदला वह फिल्म के नायक से लेना चाहता है।� डायरेक्टर विनोद कापड़ी बताते हैं कि समाचारों की दुनिया का अपना अनुभव उन्होंने इस फिल्म में जम कर इस्तेमाल किया है और इसे बनाने के बाद वह फिर से उसी दुनिया में लौट जाएंगे ताकि फिर कोई नई और प्रभावी कहानी तलाश सकें।
-दीपक दुआ


Back





फ़िल्म और टीवी जगत के कलाकार धीरज कुमार के भतीजे इन्दर कोचर की शादी में आये
 

धीरज कुमार जो एक एक जानेमाने एक्टर , निर्माता और निर्देशक हैं ,इन्होने अपने भतीजे इन्दर कोचर कि शादी में अपने भाई देवेन्द्र दास कोचर और उन&#


मिस टनकपुर हाजिर हो खोलेगी सिस्टम की पोल
 

जिला बुलंदशहर के किसी गांव में अगर ओम पुरी और अन्नू कपूर जैसे कलाकारों के साथ किसी फिल्म की शूटिंग चल रही हो तो वहां भीड़ का जुटना स्वाभाविक ही है। सर्दियों की गुनगुनी धूप में निर्माता विनय तिवारी की फिल्म �मिस टनकपुर हाजिर हो� के सैट पर पहुंचते ही हमारी मुलाकात फिल्म के निर्देशक विनोद कापड़ी से हुई।


नौटंकी विधा पर आधारित रूद्र
 

मुंबई:- कभी बिहार, यूपी और पंजाब आदि राज्यों में नौटंकी काफी प्रचलित थी पर अब यह इतिहास की बात होती जा रही है। इसी विषय पर निर्माता अर्चना वर


फिल्म अवधि का प्रमोशनल सॉग रिकार्डिंग
 

पिछले दिनों वोल्फपैक मूवीज के बैनर तले बनी फिल्म अवधि के दो गीतों की रिकार्डिंग अंधेरी के स्टूडियो मंे गायिका मधुस्मिता और अनिल शर्मा क


15 हजार से अधिक भर्तियां
 

चंडीगढ़:हरियाणा सरकार अनुसूचित जाति और पिछड़े वर्ग के पंद्रह हजार से ज्यादा रिक्त पद भरेगी। यह बैकलॉग पूरा करने की प्रक्रिया शुरू कर दी


स्टूडेंट्स देंगे
 

कोलकाता:अब तक यही होता रहा है कि टीचर स्टूडेंट्स को उनकी पढ़ाई-लिखाई के आधार पर उनको नंबर देते रहे है लेकिन अब इसके उलट टीचर्स को उनके प्रद&